कंप्यूटर में लोकल डिस्क सी ही क्यों दिखाई देती है ? ए और बी ड्राइव क्यों नहीं होती है ?

कंप्यूटर में लोकल डिस्क सी ही क्यों दिखाई देती है ? ए और बी ड्राइव क्यों नहीं होती है ?
---Ads---

कंप्यूटर में “लोकल डिस्क (सी:)” क्यों दिखता है और “ए:” और “बी:” ड्राइव क्यों नहीं दिखती, इसका कारण ऑपरेटिंग सिस्टम और पारंपरिक डिस्क ड्राइव कन्वेंशन से जुड़ा हुआ है।

---Ads---

Local Disk (C:):

C: ड्राइव आम तौर पर प्राथमिक विभाजन का प्रतिनिधित्व करता है जहां ऑपरेटिंग सिस्टम (जैसे विंडोज़) स्थापित होता है। इसे हार्ड डिस्क का मुख्य विभाजन माना जाता है जहां सिस्टम फ़ाइलें और ऑपरेटिंग सिस्टम स्वयं रहते हैं।

ऐतिहासिक रूप से, जब पीसी पहली बार पेश किए गए थे, तो उनमें अक्सर एक फ्लॉपी डिस्क ड्राइव (ए:) होती थी, और बाद में, एक दूसरी फ्लॉपी डिस्क ड्राइव (बी:) होती थी। हार्ड डिस्क ड्राइव को C: से शुरू करके अक्षर निर्दिष्ट किए गए थे।

ए: और बी: ड्राइव:

A: और B: ड्राइव अक्षर पारंपरिक रूप से फ़्लॉपी डिस्क ड्राइव के लिए आरक्षित थे। यह अवधारणा उस समय की है जब फ्लॉपी डिस्क बाहरी भंडारण का प्राथमिक साधन थी। A: ड्राइव पहली फ्लॉपी डिस्क ड्राइव का प्रतिनिधित्व करती है, और B: ड्राइव दूसरी फ्लॉपी डिस्क ड्राइव का प्रतिनिधित्व करती है।

आधुनिक कंप्यूटरों में, फ़्लॉपी डिस्क ड्राइव अप्रचलित होती जा रही हैं, और कई प्रणालियों में अब वे शामिल नहीं हैं। परिणामस्वरूप, समकालीन कंप्यूटरों पर फ़ाइल एक्सप्लोरर में ड्राइव अक्षर A: और B: अक्सर दिखाई नहीं देते हैं।

संक्षेप में, “लोकल डिस्क (सी:)” प्राथमिक विभाजन का एक मानक प्रतिनिधित्व है जहां ऑपरेटिंग सिस्टम स्थापित है, जबकि ए: और बी: ड्राइव ऐतिहासिक रूप से फ्लॉपी डिस्क ड्राइव का प्रतिनिधित्व करते हैं और आधुनिक कंप्यूटिंग में कम आम तौर पर उपयोग किए जाते हैं। यदि आपके पास अन्य विभाजन या ड्राइव हैं, तो उन्हें डी से शुरू होने वाले अक्षर दिए जाएंगे: और इसी तरह। विशिष्ट ड्राइव अक्षर आपके कंप्यूटर के कॉन्फ़िगरेशन और कनेक्टेड स्टोरेज डिवाइस की संख्या के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।

---Ads---